पर्यावरण संरक्षण हेतु नारी शक्तियों को जागरूक करने के लिए कार्यशाला आयोजित

जौनपुर। पर्यावरण संरक्षण हेतु नारी शक्तियों को जागरूक करने के लिए नारीशक्ति जौनपुर द्वारा माँ मूर्ति ग्रुप ऑफ प्लांटेशन के सहयोग से एक महत्वपूर्ण कार्यशाला का आयोजन संयोजिका डाॅ. रागिनी गुप्ता के नेतृत्व में किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि नगर पालिका परिषद की अध्यक्ष माया टंडन ने प्लास्टिक के प्रयोग के दुष्प्रभाव को बताया । विशिष्ट अतिथि प्रोफ़ेसर पूनम सिंह ने स्वयं जागरूक होने की बात कही और बताया कि कैसे हमारे पूर्वजों ने प्रकृति को धर्म से जोड़कर पर्यावरण संरक्षण का इंतजाम किया पर आज की भौतिकवादी संस्कृति इसे भूलती जा रही है। अतः हमें पुनः अपनी संस्कृति को कायदे से समझने व पर्यावरण को स्वच्छ रखने की जरूरत है।

मुख्य वक्ता कृष्ण मोहन ने विस्तारपूर्वक और प्रेरणादायक उद्बोधन में सभी को जागरूक किया कि हमें स्वाभाविक जीवन जीना चाहिए और इसके लिए निश्चित ही हमें बढ़ते प्रदूषण को रोकना ही होगा। इसके लिए इकोब्रिक को आसानी से घरों में बनाकर प्लास्टिक को बाहर फैलने से रोका जा सकता है। अंत में अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में डाक्टर लक्ष्मी गुप्ता ने सभी को प्लास्टिक मुक्त समाज बनाने की दिशा में आगे बढ़कर कार्य करने की जरूरत पर बल दिया।‌कार्यक्रम में पर्यावरण प्रहरी बहनें ईकोब्रिक बनाकर भी लाई। कार्यक्रम में बताया गया कि दो महीने का घर से निकलने वाला प्लास्टिक कचरा एक लीटर की पानी की बेकार बोतल में आसानी से समा जाता है जो कि 100 वर्ग फीट धरती को जहरीला होने से बचा लेता है। पेड़,पानी, प्लास्टिक को केंद्र में रखकर हमें पर्यावरण प्रहरी बनना है, ऐसा सभी ने संकल्प लिया।सभी मातृ शक्तियों को गमले के साथ तुलसी क पौधा देकर सम्मानित किया गया। डाॅ. रागिनी गुप्ता द्वारा सभी का आभार एवं धन्यवाद ज्ञापित किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में श्रीमती निवेदिता आंनद,अर्चना रानी, डाॅ.विनती साहू, सुषमा पांडेय, राजेश पांडेय, शैलेन्द्र निषाद, रेखा निषाद, सुप्रनित गुप्ता , नारायण दास, कादंबरी,अंजू पाठक , डा.वन्दना सरकार आदि का सराहनीय योगदान रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button