राजनीति करने नहीं आए हैं हम प्रदेश के हालात बदलने

आम आदमी पार्टी की जिला प्रभारी शिमला त्रिपाठी ने गिनाया केजरीवाल सरकार के काम

जौनपुर। आम आदमी पार्टी की जिला प्रभारी शिमला त्रिपाठी ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में जो काम किए हैं उसका डंका पूरी दुनिया में बज रहा है। चाहे वह शिक्षा के क्षेत्र में हो, स्वास्थ्य के क्षेत्र में हो, महिला सुरक्षा के क्षेत्र में हो, बिजली पानी या आम आदमी की बुनियादी जरूरतों के मामले में हो। यही वजह है कि दिल्ली वाले हर बार अरविंद केजरीवाल को बतौर मुख्यमंत्री चुनते हैं। कौशांबी जिला प्रभारी अंजनी मिश्रा ने कहा कि जबसे अरविंद केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश में 2022 विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है भाजपा के नेता मंत्री उन पर टूट पड़े हैं ,वह दिल्ली गवर्नेंस मॉडल और यूपी गवर्नेंस मॉडल की तुलना कर रहे हैं।

जिला महासचिव आलोक राजभर ने आरोप लगाया कि भाजपा के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने दिल्ली विकास मॉडल और यूपी विकास मॉडल पर बहस करने की खुली चुनौती दिया तो दिल्ली के शिक्षा मंत्री और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने उस चुनौती को स्वीकार किया और लखनऊ आए। लेकिन सिद्धार्थ नाथ सिंह नदारद हो गए। यही नहीं जब मनीष सिसोदिया उत्तर प्रदेश के सरकारी स्कूलों को देखने के लिए निकले तो प्रशासन ने उन्हें रोकना शुरू कर दिया। जिला प्रवक्ता अनुराग मणि त्रिपाठी ने कहा कि विकास और अच्छे काम दिखाने के लिए होते हैं, छुपाने के लिए नहीं। विधान सभा प्रभारी बबलू गुप्ता ने कहा कि इस अभियान से उत्तर प्रदेश सरकार बौखला गई है। चुनाव प्रभारी सोम कुमार वर्मा ने कहा कि आम आदमी पार्टी संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बार-बार कह रहे हैं कि हम जाति और धर्म की राजनीति नहीं, शिक्षा स्वास्थ्य रोजगार महिला सुरक्षा बिजली पानी पर काम करते हैं। हमें स्कूल बनाना है, अस्पताल बनाने हैं, दिल्ली की जनता को जो सुविधाएं मिली है उत्तर प्रदेश की जनता को भी मिलनी चाहिए।

आप नेताओं का कहना है कि उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी संगठन को बढ़ता देख और सरकारी स्कूलों की पोल खुलती देख। आदित्यनाथ सरकार ने अपने कार्यकाल के आखिरी साल में सरकारी स्कूलों की हालत  देखते हुए  कायाकल्प की योजना बनाई है. उत्तर प्रदेश के सभी प्राइमरी और माध्यमिक स्कूल को कायाकल्प योजना से जोड़ने की तैयारी कर रही है। उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है एक सरकार अगर दूसरी सरकार से सीख कर जनता के लिए कुछ बेहतर करती है तो हमें अपने गवर्नेंस मॉडल पर गर्व है लेकिन अगर आदित्यनाथ की यह योजना जुमला साबित हुई तो उत्तर प्रदेश में आदित्यनाथ की सरकार जाने वाली है l इस अवसर पर आशीष सिंह, डॉ. दिवाकर मौर्य, अश्वनी श्रीवास्तव, नगर अध्यक्ष बंटी अग्रहरी ,वकील अंसारी, विधानसभा अध्यक्ष पंकज चौहान, लालाराम, प्रवेश राजभर चतुरी सरोज, साहिल चतुर्वेदी, सुरेश राजभर सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button