एनकाउंटर करने वाली पुलिस टीम ने शासन से मिला एक लाख का इनाम मृत गार्ड के परिजनों को सौंपा

लुटेरों से पहली मुठभेड़ में मारे गए गार्ड के परिवार को सीएम फंड से मिली दो लाख रुपए की सहायता घर जाकर दिया विधायक ने

जौनपुर । बक्शा थाना क्षेत्र के धनियामऊ बाजार में कैश वैन के गार्ड की गोली मारकर हत्या करने वाले बदमाशों को मुठभेड़ में मार गिराने वाली पुलिस टीम ने शासन से मिली एक लाख की पुरस्कार राशि मृत गार्ड रामअवध चौबे के परिजनों को समर्पित किया है। पुरस्कृत पुलिस टीम की पहल पर पुलिस लाइन सभागार में पुलिस अधीक्षक अजय साहनी ने एक लाख रुपये की नकद धनराशि गार्ड की मां को सौंपा। इस दौरान मां एसपी को पकड़कर फफक कर रो पड़ी। एसपी ने इंस्पेक्टर मड़ियाहूं को निर्देश दिया कि वह पीड़ित परिवार की बराबर खोजखबर लेते रहें। परिवार को कोई समस्या हो तो उसका समाधान किया जाए।

गौरतलब है कि धनियामऊ बाजार में स्थित इंडिया-वन एटीएम के पास एजीएस कंपनी के कैश वैन के गार्ड अवध नारायण चौबे ( बीरबलपुर, कोतवाली मड़ियाहूं) की गोली मारकर हत्या करने वाले दोनों बदमाशों को कुछ ही घंटे बाद एनकाउंटर में मार गिराने वाली पुलिस टीम को अपर मुख्य सचिव गृह उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से एक लाख रुपये से पुरस्कृत किया गया था। एसपी के मुताबिक पुलिस टीम के सदस्यों ने उनसे कहा कि परिवार की आजीविका चलाने के लिए उन्हें मिल रहा वेतन काफी है। हमें बदमाशों की गोली से मृत गार्ड के परिवार की मदद करनी चाहिए। इसलिए पुरस्कार की यह धनराशि पीड़ित के परिजनों को सौंप दी जाए। एसपी ने बताया कि घटना में मृत गार्ड रामवध चौबे के पिता राजनारायण चौबे भी पुलिस सेवा से रिटायर हुए थे। उन्हीं की लाइसेंसी बंदूक का वरासत रामअवध के नाम हुआ था, जिसके सहारे वह वर्ष 2013 से गार्ड की नौकरी कर रहे थे। वह परिवार के अकेले कमाने वाले सदस्य थे। उनकी मौत से परिवार की आमदनी का एकमात्र स्रोत बंद हो गया। मृतक का बेटा हरिओम अभी हाईस्कूल में पढ़ाई कर रहा है। एसपी ने कहा कि हरिओम की पढ़ाई के लिए भी जो भी संभव होगा पुलिस मदद करेगी।

दूसरी तरफ बदमाशों की गोली से मृत कैश वैन के गार्ड रामअवध चौबे के घर बृहस्पतिवार को पहुंची विधायक डॉ. लीना तिवारी ने परिजनों को सांत्वना दी और मुख्यमंत्री राहत कोष से दो लाख रुपये का चेक मृतक की पत्नी को सौंपा। विधायक ने मृतक के पुत्र हरिओम की पढ़ाई का खर्च खुद उठाने का भरोसा परिजनों को दिया। विधायक के साथ एसडीएम मंगलेश दुबे एवं क्षेत्राधिकारी मडियाहूं एसपी उपाध्याय भी रहे। उधर बदलापुर क्षेत्र के विधायक रमेश चंद्र मिश्र ने भी मुख्यमंत्री से गार्ड स्व. रामअवध चौबे के आश्रितों को दस लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान किए जाने की मांग की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button