पारिवारिक कलह से ऊब कर ट्रेन के सामने कूद गया परिवार का मुखिया

जौनपुर। खेतासराय थाना क्षेत्र के गोरारी आर्यनगर के निवासी 55 वर्षीय आशा पांडेय ने बुधवार को पारिवारिक कलह से ऊब कर ट्रेन के सामने कूदकर जान दे दी। जानकारी मिली है कि गोरारी आर्यनगर निवासी आशा पांडेय पुत्र स्वर्गीय राम दुलार पांडे परिवार में जीविका का कोई संतोषजनक साधन नहीं होने के कारण आर्थिक रूप से परेशान रहता था। वह इससे इधर काफी दिनों से तनाव में चल रहा था। इसी वजह से उसके पुत्र व परिवार के लोग आए दिन विवाद करते रहते थे।

बुधवार को सुबह परिजनों की नाराजगी से ऊब कर वह वाराणसी अयोध्या रेल प्रखंड पर खेतासराय शाहगंज के बीच गोरारी गांव स्थित दलित बस्ती के पास ट्रेन से कटने के लिए दौड़ पड़ा। इस दौरान वहां शौच के लिए गये दलित बस्ती के लोगों ने उसे समझा-बुझाकर जबरिया पकड़ लिया और घर पहुंचा दिया। लेकिन जब वह घर पहुंचा तो परिजन फिर उससे विवाद करने लगे। जानकारों का कहना है कि परिजन उसे ताना देने लगे।

आखिरकार वह एक बार फिर घर वालों की प्रताड़ना से ऊब कर दुबारा रेलवे लाइन पर आ कर छुप कर बैठ गया । इस दौरान अयोध्या की ओर से वाराणसी को जा रही एक ट्रेन के सामने उसने कूदकर जान दे दिया। मृतक के शरीर के कई टुकड़े हो गए। हादसे के बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। लोगों ने मामले की जानकारी खेतासराय पुलिस और आरपीएफ शाहगंज के इंस्पेक्टर संदीप यादव को दिया । इस संबंध में आरपीएफ शाहगंज के इंस्पेक्टर ने बताया कि पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद परिवार के सुपुर्द कर दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button