अरसे से दुर्घटनाओं और जाम का पर्याय बन चुकी सड़क पर निगाह पड़ी प्रशासन की

गौराबादशाहपुर में जाम से मुक्ति के लिए 25 जून तक हर हाल में बाईपास चालू करने का डीएम ने दिया आदेश

जौनपुर। आजमगढ़ मार्ग पर स्थित सेन्ट पैट्रिक स्कूल से लेकर पंचहटिया तक की सड़क पर लम्बे अरसे से कायम बड़े बड़े गड्ढों को फिलहाल कमचलाऊ ढंग से भर दिया गया। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा के संज्ञान लेने से इस दिशा में युद्ध स्तर पर काम हुआ। इससे करीब एक किलोमीटर दूरी तक की सड़क के टुकड़े पर रोज लगने वाले घंटों रहने वाले रास्ता जाम और अक्सर होने वाली दुर्घटनाओं से काफी राहत मिलने की संभावना है।

विशेष रूप से बारिश होने के बाद सड़क के गड्ढों में पानी भर जाने से हालात बेहद खराब हो जाते रहे हैं। इस सड़क पर होने वाली दुर्घटनाओं से पीड़ित परिवारों की एक बड़ी संख्या है। संज्ञान में लाए जाने के बावजूद पिछले जिलाधिकारी के कार्यकाल में इस समस्या के समाधान की दिशा में कोई प्रगति नहीं हो सकी थी। लोगों को उम्मीद है कि जिला प्रशासन द्वारा जल्दी ही इसका स्थाई समाधान करवाया जाएगा।

जिलाधिकारी ने निर्माणाधीन जौनपुर-आजमगढ़ मार्ग का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान ही पचहटिया में जलजमाव की स्थिति को ठीक कर दिया गया, गड्ढों को भर दिया गया। दुकानों के सामने खुदी हुई नालियों के संबंध में भी निर्देशित किया गया। गौरतलब है कि आजमगढ़ मार्ग पर स्थित गौराबादशाहपुर कस्बे में बार-बार लग रहे भयंकर जाम की समस्या को संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा मंगलवार को दोपहर बाद अचानक गौराबादशाहपुर से गुजरे बाईपास का निरीक्षण करने भी पहुंचे।

निरीक्षण के दौरान उन्होंने अभय यादव एई और जेई कुतुबुद्दीन को निर्देशित किया कि हर हालत में 25 जून तक बाईपास को चालू कर भारी वाहनों का आवागमन बाईपास से करवाना शुरू करें। ताकि गौराबादशाहपुर कस्बे में प्रस्तावित चौड़ीकरण कार्य और नाली का निर्माण कर सड़क निर्माण कार्य प्रारंभ किया जा सके। ताकि गौराबादशाहपुर कस्बे में लगने वाले जाम से वहां के लोगों और वाहनों को मुक्ति मिल सके। डीएम के अचानक निरीक्षण के वजह से कर्मचारियों में अफरा तफरी मची रही डीएम के निर्देश के बाद बाईपास के निर्माण कार्य में काफी तेजी भी देखी गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button