रिटायर्ड शिक्षकों के हाथों में संगठन की कमान जाने से कमजोर हुई शिक्षकों की लड़ाई

माध्यमिक शिक्षक संघ के स्थापना दिवस पर शिक्षकों ने किया विश्लेषण

जौनपुर। उत्तर प्रदेश शिक्षक संघ का स्थापना दिवस समारोह टीडी इंटर कालेज में वरिष्ठ शिक्षक नेता शशि प्रकाश मिश्रा की अध्यक्षता में मनाया गया। समारोह में माध्यमिक शिक्षक संघ की स्थापना के उद्देश्य, संगठन द्वारा किए गए संघर्षों तथा उससे प्राप्त उपलब्धियों और आगे की सांगठनिक रणनीति पर विचार-विमर्श किया गया। इस मौके पर संघ के प्रांतीय उपाध्यक्ष रमेश सिंह ने कहा कि 31 दिसम्बर 1956 ई. को जब माध्यमिक शिक्षक संघ की स्थापना हुई तो उस समय शिक्षकों की दशा और दिशा अत्यंत सोचनीय थी और उस समय तीन शिक्षक संगठनों द्वारा मिल कर सर्व सम्मति से उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की स्थापना शिक्षक हितों के संघर्ष के लिए की गई थी। संघ का गौरवशाली अतीत रहा है और उसमें जनपद जौनपुर की अग्रणी भूमिका रही है।

श्री सिंह ने कहा कि टीडी कालेज के प्रधानाचार्य स्व.ह्रदय नारायण सिंह की माध्यमिक शिक्षक संघ की स्थापना में महती भूमिका रही है। संगठन ने अपने संघर्ष से काफी उपलब्धियां अर्जित किया, लेकिन धीरे-धीरे संघ के नेतृत्व में 1992 के पश्चात एक नया प्रयोग अर्थात रिटायर्ड शिक्षकों के हाथों में संगठन की कमान और विधान परिषद में नेतृत्व प्रारंभ हुआ। कार्यरत नेतृत्व का स्थान अवकाश प्राप्त नेतृत्व ने ले लिया और परिणाम स्वरूप सरकार हमलावर हो गई। इसलिए एकजुट होकर संघर्ष करना जरूरी है। प्रांतीय मंत्री डाॅ. राकेश सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की स्थापना करने वाली महान विभूतियों को उनकी योगदान के लिए पूरा शिक्षक समुदाय सादर नमन करता है। संगठनों की कमजोरी का प्रत्यक्ष प्रमाण है कि दो प्रमुख संगठनों के अध्यक्ष विधान परिषद का चुनाव हार गए।

इस अवसर पर शशि प्रकाश मिश्रा ने कहा कि संगठन के जिस गौरवशाली अतीत पर हम शिक्षक गौरवांवित होते थे, आज उसी संगठन की हालत सोचनीय हो गई है। समारोह को संबोधित करते हुए प्रधानाचार्य परिषद के अध्यक्ष डाॅ. सुभाष सिंह ने शिक्षक संघ की स्थापना और उसके संघर्षो पर विस्तार से प्रकाश डाला। समारोह को जिलाध्यक्ष सरोज सिंह ने भी संबोधित किया। संचालन जिला मंत्री तेरस यादव ने किया। इस अवसर पर इंद्रपाल सिंह, हसन सईद, विनय कुमार ओझा, दिलीप कुमार सिंह, राजेश सिंह, विजय बहादुर यादव, दया शंकर यादव, अरविन्द कुमार राय, आशुतोष सिंह, बृजेश सिंह, ओम सिंह आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button