गठबंधन धर्म निभाने में जुटा भाजपा का प्रदेश नेतृत्व, भीतरघात करने वालोें को कार्रवाई का संकेत

पंचायत अध्यक्ष पद से अपना दल एस की दूसरी प्रत्याशी सुनीता वर्मा ने वापस ली दावेदारी

जौनपुर। जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर हो रहे चुनाव में अपना दल एस से नामांकन पत्र दाखिल करने वाली दूसरी प्रत्याशी सुनीता वर्मा ने मंगलवार को अपना नाम वापस ले लिया। वैसे भी उन्हें पहले से ही वैकल्पिक रूप से उतारा गया डमी प्रत्याशी माना जा रहा था।अपना दल एस की अधिकृत प्रत्याशी रीता पटेल ही होंगी और गठबंधन के तहत सत्तारूढ़ भाजपा ने उन्हें अपने समर्थन का ऐलान कर रखा है। हालांकि करीब आधी से अधिक जिले की भाजपा का रुख अलग है।


खबर है कि जिला पंचायत चुनाव को लेकर दोनों पार्टियों का प्रदेश नेतृत्व गम्भीर है, सोमवार से ही पार्टी के प्रेक्षक जिले में डेरा डालकर भाजपा नेताओं कार्यकर्ताओ पर कड़ी निगाह रखे हुए है । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता गठबंधन का धर्म निभाने के लिए पूरी तरह से संकल्पित हैं , वह पूरी तरह से अपनादल के प्रत्याशी को जिताने के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं रखना चाहते हैं। खबर यह भी है कि जिला पंचायत सदस्यों से मीटिंग करने के लिए उनसे सम्पर्क की कोशिश की जा रही है लेकिन अधिकांश सदस्यों का फोन बंद बताया जा रहा है ।
प्रदेश नेतृत्व जिले के जनप्रतिनिधियों और संगठन के पदाधिकारियों की गतिविधियों पर पल पल की रिपोर्ट ले रहा है। जिले के भाजपा नेताओं को संकेत दिए जा रहे हैं कि यदि किसी ने भीतरघात किया तो उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी। एक नाम वापसी के बाद अब जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए 4 प्रत्याशी मैदान में हैं। जिसमें समाजवादी पार्टी से निशी यादव,अपनादल एस से रीता पटेल और निर्दल प्रत्याशी श्रीकला धनंजय सिंह एवं निर्दल नीलम सिंह मैदान में हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button