सालों से बन रहे सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट का हुआ उद्घाटन

जौनपुर। कई सालों से कुल्हनामऊ में बन रहे सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट का उद्घाटन अन्ततः हो गया। प्रदेश के नगर विकास मंत्री आशुतोष टण्डन और राज्य मंत्री गिरीश चन्द्र यादव ने इंगलिश क्लब और कुल्हनामऊ में आयोजित औपचारिक उद्घाटन समारोह में हिस्सा लिया। नगर विकास मंत्री आशुतोष टण्डन ने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुये कहा कि हमारा मुख्य लक्ष्य होना चाहिए कि कचरा कम उत्पन्न हो और प्लास्टिक की चीजें तो कचरे में बिल्कुल ना हो। जब हम किसी अच्छी गुणवत्ता की खाद्य सामग्री का तैयार पैकेट, जैसे बिस्कुट का पैकेट लेते है तो उसकी पैकिंग में एक तह प्लास्टिक की होती है। हम अपनी दैनिक प्रयोग में आने वाली चीजों, जैसे दूध और जल को भी पॉलीबैग में पैक करने लगे है।

शहरों में फल और सब्जियाँ भी प्लास्टिक पैक में ले जाते हैं, इससे हमें बचना चाहिये जबकि हमें इनकी काफी कीमत चुकानी पड़ती है। हम ऐसा करके पर्यावरण को काफी प्रदूषित करने में योगदान दे रहे हैं। पूरे देश में राज्य सरकारें प्रयास कर रही हैं कि प्लास्टिक का प्रयोग कम हो और इनके बदले पाली बैग का प्रयोग करें। हम जब सामान खरीदने जाएँ तो कपड़े का थैला या अन्य प्राकृतिक रेशे के बने केरी-बैग लेकर जाएँ और पॉलिथीन के बने थैले को लेने से मना करें।राज्यमंत्री गिरीश चन्द्र यादव ने कहा कि जीवन स्तर के उच्च मानकों के स्थापित होने से जनसंख्या में वृद्धि के साथ ही निकलने वाले ठोस अपशिष्ट की मात्रा में भी वृद्धि हुई है, ऐसा महसूस किया गया कि यदि इसी तरह कचरा बढ़ता रहा तो एक दिन इसको नियंत्रित करना मुश्किल हो जाएगा। इसलिए ठोस कचरा प्रबंधन ठोस कचरे के हानिकारक प्रभावों को कम करने में महत्त्वपूर्ण साबित होता है ।

समारोह में उपस्थित जिलाध्यक्ष (जौनपुर) पुष्पराज सिंह ने कहा कि ठोस कचरे को म्युनिसिपल, इंडस्ट्रियल, कृषि, चिकित्सकीय, खनन तथा सीवेज कचरे में विभाजित किया जा सकता है। अनुचित निस्तारण की विधियों के कारण ठोस अपशिष्ट रास्तों पर पड़ा रहता है, लोग अपने घरों की सफाई करके कचरे को खुले में छोड़ देते हैं, जो उनके साथ-साथ पूरे समुदाय को प्रभावित करता है। इस प्रकार के कार्यों से अनियंत्रित तथा अव्यवस्थित तरीके से कचरा अपघटित होता है एवं बदबू के साथ-साथ अनेक प्रकार के संक्रामक रोगाणुओं के प्रजनन का कारण बनता है। इस सबसे बचने के लिये सरकार द्वारा प्रत्येक जिले के शहर में सॉलिड मैनेजमेंट प्लान्ट की स्थापना की जा रही है। उक्त अवसर पर जिला महामंत्री सुशील मिश्र, पीयूष गुप्ता, मनोज दुबे, जिला उपाध्यक्ष अमित श्रीवास्तव, जिला मंत्री राजू दादा, श्रीमती कमला सिंह , श्याम मोहन अग्रवाल, अजय सिंह, मनीष श्रीवास्तव, नन्दलाल यादव, महेंद्र मद्धेशिया, आमोद सिंह, ओमप्रकाश सिंह, विनीत शुक्ला, इन्द्रसेन सिंह, विपिन द्विवेदी मण्डल अध्यक्ष गण अजय मिश्रा, जितेन्द्र मिश्रा, भूपेश सिंह, नरेन्द्र विश्वकर्मा, शैलेष सिंह, राजकेशर पाल, अमित श्रीवास्तव, धर्मेंद्र मिश्रा, विकास शर्मा आदि लोग उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button