जल संरक्षण से संबंधित परियोजनाओं को रेन वाटर हार्वेस्टिंग के साथ जोड़ा जाएगा : योगी आदित्यनाथ

वर्चुअल लोकार्पण में जौनपुर के 9 चेक डैम और 7 तालाब

जौनपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा प्रदेश के 278 चैक डैम तथा तालाब परियोजनाओं का वर्चुअल लोकार्पण लखनऊ से किया गया। लोकार्पित किए गए चेक डैम तथा तालाबों में जौनपुर के 9 चेक डैम तथा 7 तालाब सम्मिलित हैं। मुख्यमंत्री ने भूगर्भ जल पोर्टल का वर्चुअल शुभारंभ भी किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश के एक चौथाई विकासखंड डार्क जोन में थे, जिसको हमारी सरकार आने के बाद तालाब एवं चेक डैम का निर्माण कराकर डार्क जोर से बाहर निकालने का कार्य किया गया है ।

उन्होंने जल के महत्व को बताते हुए कहा कि “जल है तो कल है” जल के बिना जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती है । इसीलिए हमें जल के महत्व को समझना होगा। इसे प्रदूषित होने से रोकना होगा।शुद्ध और साफ जल हमारे कल को बेहतर बनाने में सहायक होगा। प्रदूषित जल अनेक बीमारियों का कारक है। सतही और भूगर्भ दोनों को शुद्ध एवं स्वच्छ रखने के प्रयास किए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार तथा भारत सरकार द्वारा प्रदूषित जल को रोकने तथा भूगर्भ जल स्तर ऊपर लाने के लिए कार्य किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि जल संरक्षण से संबंधित परियोजनाओं को रेन वाटर हार्वेस्टिंग के साथ जोड़ा जाएगा। जल के महत्व और उपयोगिता को देखते हुए शासन व जनपद स्तर के अधिकारी वॉटर हार्वेस्टिंग के कार्यों को शीघ्रता से आगे बढ़ाएं। उन्होंने कहा कि चेक डैम तथा तालाबों का पुनरुद्धार करके भूगर्भीय जलस्तर को ऊपर उठाया जा सकता है। जनपद में मुख्यमंत्री के लोकार्पण कार्यक्रम का प्रसारण एनआईसी में दिखाया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा, जिला विकास अधिकारी बीबी सिंह, सहायक अभियंता लघु सिंचाई यादवेंद्र सिंह, अवर अभियंता लघु सिंचाई बृजेश कुमार, विधायक केराकत प्रतिनिधि आरडी चौधरी, विधायक जफराबाद प्रतिनिधि डॉ. जनार्दन सिंह एवं जल प्रबंधन समिति के सदस्य उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button