यूपी बोर्ड का परीक्षा केन्द्र बनाने में राजकीय और एडेड कालेजों को प्राथमिकता

डिप्टी सीएम ने की बोर्ड परीक्षा तैयारियों और क्लास चलाने की समीक्षा

जौनपुर। प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने रविवार को वीबीएस पूर्वांचल विश्वविद्यालय के अतिथि गृह में माध्यमिक एवं उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक में हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा -2021 के तैयारियों की समीक्षा की। समीक्षा बैठक के बाद डॉ. शर्मा ने अतिथि गृह के बाहर मौजूद मीडिया कर्मियों से वार्ता भी की और उन्हें परीक्षाओं के विषय में लिए गए निर्णयों की जानकारी दी। समीक्षा के दौरान उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि बोर्ड परीक्षा शांतिपूर्ण एवं नकलविहीन तरीके से संपन्न कराई जाए। उन्हीं विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया जाए जो मानक को पूर्ण करते हों। परीक्षा केंद्रों के निर्धारण में शासन के निर्देशों का पालन अवश्य किया जाए। उप मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि परीक्षा केंद्र बनाने में राजकीय विद्यालयों तथा एडेड विद्यालयों को प्राथमिकता दी जाए उसके पश्चात ही वित्तविहीन विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया जाए।डिप्टी सीएम ने विश्वविद्यालय तथा माध्यमिक विद्यालयों में चल रही कक्षाओं की भी जानकारी प्राप्त की।
प्रभारी जिला विद्यालय निरीक्षक प्रवीण कुमार तिवारी ने बताया कि परीक्षा केंद्रों के निर्धारण की प्रक्रिया चल रही है। कुल 641 विद्यालयों ने अपनी सूचनाएं पोर्टल पर अपलोड करा दी हैं, जिनका सत्यापन कराया जा रहा है। उन्हीं विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया जाएगा जो मानक को पूर्ण करते हैं। उन्होंने बताया कि वर्तमान में कोविड-19 की गाइडलाइंस का पालन करते हुए 50 प्रतिशत छात्रों के साथ कक्षाएं चलाई जा रही हैं। पूर्वांचल विश्वविद्यालय की कुलपति‌ प्रो.निर्मला एस. मौर्या द्वारा बताया गया कि विश्वविद्यालय में भी कोविड-19 की गाइडलाइंस का पालन करते हुए कक्षाएं चल रही हैैं। बैठक में जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक राजकरन नय्यर, पूर्वांचल विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार व्यास नारायण सिंह, वित्त अधिकारी एन.के. सिंह, सहायक जिला विद्यालय निरीक्षक रमेश यादव आदि भी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button