सहज नहीं ईमानदार पत्रकारिता

42 वें वर्ष में प्रवेश पर तरुणमित्र के नए कार्यालय का उद्घाटन

जौनपुर। जनपद से प्रकाशित हिंदी दैनिक तरुणमित्र के 42 वें वर्ष में प्रवेश के अवसर पर परमानतपुर (हरिबंधनपुर) स्थित नए कार्यालय का उद्घाटन मंगलवार को समाचार पत्र के समूह संपादक कैलाशनाथ ने किया। इसे तरुणमित्र के जौनपुर संस्करण का मुख्य कार्यालय बनाया गया है। औपचारिक उद्घाटन कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कैलाशनाथ ने समाचार पत्र के प्रकाशन आरंभ से लेकर अब तक के अपने कई संस्मरण साझा किए। पिछले चार दशकों के दौरान हुए खट्टे मीठे अनुभव का जिक्र करते हुए उन्होंने समाचार पत्रों के बीच होने वाले भेदभाव का भी जिक्र किया।

कहा कि ईमानदार पत्रकारिता करना सहज नहीं है। उन्होंने दैनिक समाचार पत्र के नियमित प्रकाशन में आने वाली बेशुमार कठिनाइयों को बताया, साथ में समाचारों को लेकर होने वाले ज्यादतियों का भी जिक्र किया। समूह संपादक ने प्रसन्नता व्यक्त की कि तमाम कठिनाइयों का सामना करते हुए आज तरुणमित्र समाचार पत्र का प्रकाशन जौनपुर के साथ-साथ लखनऊ, फैजाबाद, पटना और मुंबई से नियमित हो रहा है। इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार श्याम नारायण पाण्डेय ने भी कुछ संस्मरण सुनाते हुए अपना विचार व्यक्त किया। अंत में संपादक आदर्श कुमार ने आगत सभी लोगों को धन्यवाद दिया। इस अवसर पर डा. राम सिंगार शुक्ल गदेला, अरविन्द उपाध्याय, महाप्रबंधक उज्जवल कुमार, डा. ब्रजेश कुमार यदुवंशी, रमेश विश्वकर्मा, कृष्ण कुमार मिश्र, विनय कुमार शुक्ल, विनोद कुमार यादव, बेलाल जानी, धनीराम कसेरा, राघव विश्वकर्मा, राजीव साहू, पूनम विश्वकर्मा, प्रकाश चन्द्र शुक्ल, कृति, हरीलाल यादव, भोले विश्वकर्मा आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button