मुंगराबादशाहपुर क्षेत्र की बसपा विधायक सुषमा पटेल के पति बसपा छोड़ कर सपा में

प्रतापगढ़ सदर विधानसभा क्षेत्र से उपचुनाव लड़ चुके हैं रणजीत सिंह पटेल, पार्टी से निलंबित हैं सुषमा पटेल

जौनपुर। हाल ही में हुए विधानसभा उप चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के उम्‍मीदवार रहे रणजीत सिंह पटेल समाजवादी पार्टी में शामिल हो गये। रणजीत सिंह पटेल की पत्‍नी जौनपुर के मुंगराबादशाहपुर क्षेत्र से बसपा की विधायक हैं। सपा मुख्‍यालय से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की उपस्थिति में प्रतापगढ़ सदर विधानसभा के पूर्व बसपा प्रत्याशी रणजीत सिंह पटेल ने शनिवार को समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। रणजीत सिंह पटेल के पिता और माता दोनों जौनपुर जिले के मड़ियाहूं क्षेत्र से विधायक रहे हैं। पटेल पूर्व पीसीएस अधिकारी हैं, जो 2019 में बसपा उम्‍मीदवार बने थे।

रणजीत सिंह पटेल के सपा में शामिल होने के बाद जब उनकी पत्नी बसपा विधायक सुषमा पटेल से बातचीत की गई तो उन्‍होंने कहा कि मैं बसपा के टिकट पर चुनाव जीती लेकिन पार्टी ने मुझे निलंबित कर दिया है। मेरा परिवार जहां रहेगा वहां हम हैं। हालांकि उन्‍होंने किसी भी दल में शामिल होने से इनकार कर दिया। सुषमा पटेल ने कहा मुझे अभी किसी दल में नहीं जाना है और मैं अपने क्षेत्र की जनता की सेवा कर रही हूं। उल्‍लेखनीय है कि राज्‍यसभा चुनाव के दौरान बसपा के कुछ विधायकों ने बसपा के अधिकृत उम्‍मीदवार का प्रस्‍तावक बनने के बाद अगले दिन अपने हस्‍ताक्षर को फर्जी बताया था। साथ ही सुषमा पटेल सहित कुछ बसपा विधायकों द्वारा उसी दौरान सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से जाकर मिलने और उनसे विचार विमर्श करने पर बसपा नेतृत्व की भृकुटी टेढ़ी हो गई थी। बसपा सुप्रीमो मायावती ने पिछले वर्ष 29 अक्‍टूबर को इसपर संज्ञान लेते हुए अपनी पार्टी के सात विधायकों को निलंबित कर दिया था। निलंबित विधायकों में सुषमा पटेल भी शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button