बदले मौसम में होने वाली बीमारियों के प्रकोप को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य करने के निर्देश

मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के द्वारा योजनाओं में प्रगति की समीक्षा भी की, कहा कि 21जून से कर्फ्यू में छूट लेकिन सावधानी जरूरी

जौनपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को निर्देशित किया है कि जे.ई./ ए.ई.एस./ मलेरिया/ डायरिया/ चिकनगुनिया/ डेंगू जैसी चुनौतियों से निपटने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य किया जाए। मुख्यमंत्री द्वारा निर्देशित किया गया कि बदलते मौसम से उत्पन्न होने वाली विपरीत परिस्थितियों में जागरूक रहने की आवश्यकता है। एहतियाती कदम उठाए जाने के लिए संबंधित विभागों की बैठकें की जाएं।

बदले मौसम में होने वाली बीमारियों के प्रकोप को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य करने के निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिस प्रकार उत्तर प्रदेश द्वारा कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए प्रभावी कार्य किया गया, उसी प्रकार कोरोना के तीसरी लहर के लिए अभी से तैयार रहने के साथ स्वच्छता, सैनिटाइजेशन, फॉगिंग, शुद्ध पेयजल के प्रति आम जनमानस को जागरूक करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण की गति को बढ़ाकर हमको कोरोना महामारी पर विजय प्राप्त करना हैं। मुख्यमंत्री द्वारा जौनपुर सहित विभिन्न जनपदों के अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनपदों में चल रही योजनाओं की प्रगति की समीक्षा भी की गई।

उन्होंने अपनी समीक्षा बैठक में कहा कि 21 जून को विश्व योग दिवस से कोरोना कर्फ़्यू में छूट दी जाएगी, परंतु प्रत्येक जनपद ध्यान रखे कि कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है। अतः सभी जिलों में कोरोना प्रोटोकाल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करें। वायरस कमजोर हुआ है परंतु समाप्त नहीं हुआ है। अतः हम सभी को सावधान रहने की आवश्यकता है। इस अवसर पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला, मुख्य चिकित्सा अधिकारी राकेश कुमार, अपर जिलाधिकारी भू राजस्व राजकुमार द्विवेदी, जिला सूचना अधिकारी मनोकामना राय समेत अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

जौनपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को निर्देशित किया है कि जे.ई./ ए.ई.एस./ मलेरिया/ डायरिया/ चिकनगुनिया/ डेंगू जैसी चुनौतियों से निपटने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य किया जाए। मुख्यमंत्री द्वारा निर्देशित किया गया कि बदलते मौसम से उत्पन्न होने वाली विपरीत परिस्थितियों में जागरूक रहने की आवश्यकता है। एहतियाती कदम उठाए जाने के लिए संबंधित विभागों की बैठकें की जाएं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिस प्रकार उत्तर प्रदेश द्वारा कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए प्रभावी कार्य किया गया, उसी प्रकार कोरोना के तीसरी लहर के लिए अभी से तैयार रहने के साथ स्वच्छता, सैनिटाइजेशन, फॉगिंग, शुद्ध पेयजल के प्रति आम जनमानस को जागरूक करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण की गति को बढ़ाकर हमको कोरोना महामारी पर विजय प्राप्त करना हैं। मुख्यमंत्री द्वारा जौनपुर सहित विभिन्न जनपदों के अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनपदों में चल रही योजनाओं की प्रगति की समीक्षा भी की गई।

उन्होंने अपनी समीक्षा बैठक में कहा कि 21 जून को विश्व योग दिवस से कोरोना कर्फ़्यू में छूट दी जाएगी, परंतु प्रत्येक जनपद ध्यान रखे कि कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है। अतः सभी जिलों में कोरोना प्रोटोकाल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करें। वायरस कमजोर हुआ है परंतु समाप्त नहीं हुआ है। अतः हम सभी को सावधान रहने की आवश्यकता है। इस अवसर पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला, मुख्य चिकित्सा अधिकारी राकेश कुमार, अपर जिलाधिकारी भू राजस्व राजकुमार द्विवेदी, जिला सूचना अधिकारी मनोकामना राय समेत अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button