ग्रामसभा की जमीन पर अवैध कब्जा आदेश के बावजूद नहीं हटा 18 साल में

संपूर्ण समाधान दिवस पर पेश हुई 206 शिकायतें, ज्यादातर मामले जमीनी विवाद के, 6 शिकायतों का मौके पर निस्तारण

जौनपुर। संपूर्ण समाधान दिवस पर केराकत तहसील में एक ऐसा भी मामला डीएम के सामने पेश हुआ, जिसमें शिकायत की गई कि ग्रामसभा की जमीन पर अवैध कब्जा आदेश के बावजूद 18 साल में नहीं हटा। समाधान दिवस पर 206 शिकायतें प्राप्त हुई, जिसमें से 06 शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया तथा शेष शिकायतों को संबंधित अधिकारियों को प्रेषित कर एक सप्ताह के अंदर निस्तारण कराने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिए गए हैं। केराकत तहसील का संपूर्ण समाधान दिवस तहसील सभागार में जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में संपन्न हुआ।

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि संपूर्ण समाधान दिवस में जो भी शिकायतें प्राप्त हुई है उनका निस्तारण जांच करके गुणवत्तापूर्वक कराया जाए। सम्पूर्ण समाधान दिवस पर ज्यादातर शिकायतें जमीन विवाद के संबंध में प्राप्त हुयी, जिस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि राजस्व तथा पुलिस विभाग की टीम मौके पर जाकर निरीक्षण करें तथा नियमानुसार कार्रवाई करते हुए शिकायतों का निस्तारण कराये। जिलाधिकारी ने कहा कि लेखपालों तथा कानूनगो की टीम बनाकर जमीन विवाद के मामलों की जांच कराई जाए तथा उनका नियमानुसार समाधान कराया जाए। उन्होंने कहा कि जमीन विवादों के मामलों में कोई भी लेखपाल लापरवाही करेगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि जमीन विवादों का निस्तारण सरकार की प्राथमिकता पर है, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

पेश हुए एक मामले में ग्राम बगेरवां, थाना चंदवक निवासी राम कृपाल सिंह द्वारा शिकायत की गई कि गांव के ही प्रहलाद सिंह द्वारा ग्रामसभा की जमीन पर अवैध कब्जा किया गया है। कब्जा हटवाने हेतु वर्ष 2003 में ही तहसीलदार तथा अपर जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया था, किन्तु अभी तक अवैध कब्जा नहीं हटाया गया। जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी केराकत तथा क्षेत्राधिकारी केराकत को निर्देश दिया कि तत्काल अवैध कब्जा हटाया जाए तथा अब तक अवैध कब्जा क्यों नहीं हटाया गया इसका जवाब दें। इसी तरह अजीत कुमार पुत्र कालीचरण ने बताया कि महेंद्र नाथ, राजेश कुमार तथा अखिलेश कुमार उनकी माता की भूमिधरी जमीन पर मकान बनवा रहे हैं तथा मना करने पर गाली गलौज करते हैं। जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी तथा क्षेत्राधिकारी केराकत की संयुक्त टीम द्वारा जांच कराकर समस्या का निस्तारण कराने के निर्देश दिए।

संपूर्ण समाधान दिवस में पुलिस अधीक्षक राजकरन नय्यर ने क्षेत्राधिकारी केराकत तथा थानाध्यक्षों को निर्देश दिया भूमि विवाद संबंधी मामलों में राजस्व विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर विवादों को निस्तारित कराएं तथा जहां कहीं भी अवैध कब्जे हैं उनको हटवाने में राजस्व विभाग का सहयोग करें। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला, उप जिलाधिकारी केराकत चंद्र प्रकाश पाठक, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉक्टर राजेश कुमार, जिला विकास अधिकारी बी.बी. सिंह, क्षेत्राधिकारी केराकत शुभम सहित अन्य जनपद एवं तहसील स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button