मृत्यु पर जौनपुर पुलिस के खास सहयोगी खोजी स्वान बादल को सम्मानपूर्ण विदाई

जौनपुर। जनपद में पुलिस के महत्वपूर्ण सहयोगी रहेे स्वान बादल की मृत्यु पर पुलिस परिवार में शोक है। स्वान बादल को यथोचित सम्मान के साथ जनपद के वरिष्ठ अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा भावभीनी विदाई दी गयी। पुलिस के इस खोजी स्वान के सहयोग से अनेकों जघन्य अपराधिक घटनाओं का शीघ्रता से अनावरण करने में पुलिस को सफलता मिली है। घटनास्थल से महत्वपूर्ण एवं लाभप्रद सूचनाओं एवं गंध के आधार पर पर उक्त स्वान द्वारा अपराधियों को धर दबोचा गया।

शुक्रवार को अपनी मृत्यु से पहले यह खोजी स्वान विगत 14 वर्षों से पुलिस विभाग में अपने सेवायें दे रहा था। बादल वर्ष 2011 में जनपद वाराणसी से स्थानान्तरित होकर इस जनपद के पुलिस बेड़े में सम्मिलित हुआ था। उसके द्वारा किये गये सराहनीय कार्यों को दृष्टिगत कर उसकी मृत्यु पर जनपदीय पुलिस शोक संतप्त है। बादल द्वारा जनपद में घटित सैकड़ों आपराधिक घटनाओं के सफल अनावरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई गई है। जौनपुर पुलिस को इसकी कमी खलेगी। खोजी स्वान के द्वारा किए गए महत्वपूर्ण अनावरणों का विवरण निम्नवत है-

1. थाना चंन्दवक अन्तर्गत स्थित गणेश राय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डोभी में गठित चोरी की घटना के सम्बन्ध में प्रबन्धक सत्येन्द्र कुमार की तहरीर के आधार पर मुकदमा अपराध संख्याः 530/2013 धारा 457, 380 आई0पी0सी0 में स्वान बादल की निशानदेही पर अभियुक्त योगेश को गिरफ्तार किया गया, जिसके द्वारा अपना जुर्म स्वीकार करते हुये चोरी की गयी धनराशि ₹ 23 लाख बरामद किया गया।

2. थाना मड़ियाहॅू अन्तर्गत ग्राम बेलवा में रामसागर सरोज की हत्या के सम्बन्ध में मु0अ0सं0 505/13 धारा 302 आईपीसी पंजीकृत किया गया था। जिसके अनावरण में स्वान बादल को घटनास्थल पर अपराधी द्वारा प्रयोग किये गये चाकू से गन्ध दिया गया। बादल द्वारा गंध के आधार पर मृतक के घर के पीछे पहुंच कर मृतक के बड़े पुत्र राजेन्द्र सरोज को इंगित किया गया। जिस पर अभियुक्त को गिरफ्तार कर पूछताछ की गयी, उसने अपना जुर्म कबूल किया।

3. थाना सरपतहाॅ पर पंजीकृत मु0अ0सं0 208/14 धारा 302 आई0पी0सी0 में स्वान बादल को घटनास्थल पर पड़े कलावा से गंध दिया गया। बादल गंध लेकर घटनास्थल से सीधे घर के अन्दर गया, जहां पर भूसा रखा गया था। वह भूसे को सूंघने लगा। स्थानीय पुलिस द्वारा भूसे को पलटा गया तो खून से सनी हुयी कुल्हाडी मिली, बादल को कुल्हाड़ी से पुनः गंध दिया गया, उसने गंध लेकर कमरे से बाहर निकलकर मोड़ पर खड़े जियालाल पुत्र गणेश गौतम को इंगित किया। बादल के संकेत पर स्थानीय पुलिस द्वारा जियालाल को हिरासत में लिया गया। पूछताछ के दौरान अभियुक्त जियालाल ने अपना जुर्म कुबूल किया।

4. थाना सरपतहाॅ अन्तर्गत ग्राम डेहरी निवासी हरदेव यादव द्वारा अपनी भतीजी के अपहरण के सम्बन्ध में मु0अ0स0 320/14 धारा 364 आईपीसी पंजीकृत कराया गया। मुकदमे के अनावरण में स्वान बादल की निशानदेही पर अपह्रत लड़की के चाचा/वादी हरदेव यादव पुत्र देवीप्रसाद यादव को हिरासत में लेकर पूछताछ की गयी तथा घटना का सफल अनावरण किया गया।

5. थाना खुटहन अन्तर्गत ग्राम गजेन्द्रपुर में 13 नवंबर 2018 को पूर्णमासी पुत्र मोहन (उम्र 19 वर्ष) की हत्या के सम्बन्ध मु0अ0स0 198/18 धारा 302 आई0पी0सी पंजीकृत किया गया घटना के अनावरण में स्वान बादल द्वारा गंध के आधार पर मृतक के बड़े भाई बालादीन उर्फ बलई की शिनाख्त की गयी। स्थानीय पुलिस द्वारा अभियुक्त को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई और वारदात का अनावरण हो गया। इससे पहले 8 भी 2014 को पुलिस के एक अन्य सहयोगी खोजी स्वान एक्स की मौत के सदमे में बादल ने खाना नहीं खाया। पुलिस कर्मियों के मुताबिक दोनों छह साल से साथ रह रहे थे। एक्स ने वाराणसी में हुई डकैती के खुलासे में अहम योगदान किया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button