अटाला मस्जिद के पास शेरवानी की दुकान में लगी विकराल आग से परिवार तबाह

चार मंजिला इमारत में फैली आग बुझाने में कई दमकल गाड़ियों के साथ अग्निशमन कर्मी जूझते रहे घंटों

जौनपुर। शहर के ऐतिहासिक अटाला मस्जिद के पास स्थित एक शेरवानी की दुकान में आज सुबह अचानक आग लगने से लाखों रुपए की संपत्ति जलकर नष्ट हो गई। आग इतनी विकराल थी कि उसे बुझाने में अग्निशमन विभाग की 4 दमकल गाड़ियों को घंटों मशक्कत करना पड़ा। आग लगने का कारण विद्युत शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। आग लगने से दुकान मालिक का पूरा परिवार तबाह हो गया। जानकारी मिली है कि परिवार के सदस्यों द्वारा पहने गए कपड़ों के अलावा कुछ भी बचाया नहीं जा सका। वहीं आग लगने से हुए धुंए का शिकार होकर परिवार के मुखिया महबूब (40 वर्ष) की हालत खराब हो गई थी, जिसे उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाना पड़ा।

अटाला मस्जिद चौराहे के पास स्थित ‘फेमस चिकन कुर्ते व शेरवानी’ की दुकान में यह भयंकर आग सुबह करीब 7 बजे लगी। कपड़ों और अन्य ज्वलनशील सामानों के भारी स्टाक के कारण आग ने जल्दी ही विकराल रूप ले लिया। दुकान की पहली मंजिल पर स्थित स्टोर और उसके ऊपर के दो मंजिलों पर आग फैल गई है तुरंत लोगों ने पुलिस को और अग्निशमन विभाग को सूचना दी। सूचना मिलते ही अग्निशमन विभाग के 4 फायर फाइटर कैरियर मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने पूरे प्रभावित क्षेत्र की घेराबंदी करके आग बुझाने का काम शुरू करवाया। अग्निशमन कर्मियों ने भारी मशक्कत के बाद करीब 4 घंटे में आग को पूरी तौर से काबू में किया। इस दौरान रसोई में रखे सिलेंडर में बहुत कम गैस होने के कारण बड़ी दुर्घटना होने से बच गई।

परिवार के सभी सदस्य पहले ही छत के रास्ते से सटे हुए दूसरे घरों के जरिए सुरक्षित निकल गए थे, लेकिन इस बीच परिवार के मुखिया महबूब को दम घुटने के कारण उपचार के लिए अस्पताल भेजना पड़ा, खबर है कि वह अब खतरे से बाहर हैं। इस दुकान से सटी हुई शेरवानी और चिकन कुर्ते की कई और भी दुकानें है, समय पर अग्निशमन कर्मियों के पहुंच जाने से आग दूसरे भवनों की तरफ फैल नहीं सकी। जानकारी मिली है कि इस अग्निकांड में दुकान में रखा शेरवानी, चिकन के कुर्ते, विवाह के अवसर पर दूल्हे द्वारा पहने जाने वाले जूते और अन्य परिधान जलकर नष्ट हो गए। अनुमान लगाया जा रहा है कि दुकान के सामानों के जलने से करीब 10 लाख रुपए का नुकसान हुआ। इसके साथ ही घर में रखे गहने, कपड़े और गृहस्थी के सभी सामान जलकर नष्ट हो गए। पीड़ित परिवार के शरीर पर मौजूद कपड़ों के अलावा कुछ नहीं बच सका। अग्निकांड की जानकारी मिलने पर पुलिस अधीक्षक शहर, पुलिस क्षेत्राधिकारी शहर और प्रभारी निरीक्षक शहर कोतवाली अपने सहयोगियों के साथ मौके पर मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button