हालिया चुनाव परिणामों से उत्साहित समाजवादी पार्टी जौनपुर में किसान आंदोलन को हाईजैक करने में जुटी

जौनपुर। कृषि कानूनों को लेकर चल रहे किसान आंदोलन का फिलहाल जौनपुर में कोई खास असर नहीं है, लेकिन तरफदारी में जुटी विपक्षी पार्टियां इस मौके को हाथ से जाने नहीं देना चाहती। एन डी ए के पाले से बाहर खड़ी सभी विपक्षी पार्टियों ने 8 दिसंबर के भारत बंद को अपना समर्थन दे दिया है जिले मैं अन्य पार्टियां तो सुस्त हैं। लेकिन समाजवादी पार्टी पूरे उत्साह के साथ आंदोलन में जौनपुर की भागीदारी दर्ज कराने की कोशिश में जुट गई है।


समाजवादी पार्टी ने नए कृषि कानूनों के खिलाफ विधानसभा वार कार्यक्रम घोषित कर दिया है भारत बंद के 1 दिन पहले से विधानसभा वार आंदोलन की शुरुआत हो गई है जिसके तहत सोमवार को बदलापुर विधानसभा क्षेत्र के महाराजगंज में सपा नेताओं ने ‘किसानों की आय बढ़ाओ-खेती बचाओ’ के नारे पर किसान यात्रा का आयोजन किया। सपा नेताओं ने उपजिलाधिकारी बदलापुर के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित किया। ज्ञापन में भाजपा सरकार पर आरोप लगाया गया है कि वह किसानों को गेहूं, धान और गन्ना का न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं दे रही है। सभी धान क्रय केंद्र भाजपा सरकार की बदनीयती के शिकार हो रहे हैं। अपनी जायज मांगों को उठाने वाले किसानों और सपा कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न किया जा रहा है। खबर है कि किसान यात्रा निकालने के दौरान सपा जनों और पुलिस के बीच कहासुनी भी हुई।


खास बात यह है कि रविवार को पार्टी कार्यालय पर सपा के जिलाध्यक्ष लालबहादुर यादव, पूर्व मंत्री शैलेन्द्र यादव ललई तथा पूर्व मंत्री जगदीश नारायण राय ने मिलकर किसानों के समर्थन में रणनीति बनाया। आठ दिसम्बर को किसान संगठनों द्वारा भारत बन्द के आह्वान पर खुल कर उनके साथ खड़े होने का निर्णय लेते हुए सपाजनों ने अपनी रणनीति बनाई है। इस प्रदर्शन में सपा ने अपने सभी फ्रन्टल संगठनों को लगाया है। सपा के जिला अध्यक्ष लाल बहादुर यादव ने किसान यात्रा के संदर्भ में बताया कि जनपद स्तर पर किसान आन्दोलन के समर्थन में किसान यात्रा का शुभारंभ 7 दिसंबर को बदलापुर विधानसभा क्षेत्र से होने के बाद विधानसभा वार आयोजित किसान यात्रा कार्यक्रम के तहत 9 दिसंबर को केराकत विधान सभा, 12 दिसंबर को मड़ियाहूं विधानसभा, 13 दिसंबर को शाहगंज विधानसभा, 15 दिसंबर को मल्हनी विधानसभा, 16 दिसंबर को मछलीशहर विधानसभा, 17 दिसंबर को मुंगराबादशाहपुर विधानसभा, 18 दिसंबर को जफराबाद विधानसभा, 19 दिसंबर को सदर विधानसभा में किसान यात्रा आयोजित की जाएगी। किसान यात्रा के माध्यम से जनपद के समाजवादी पार्टी के सभी जनप्रतिनिधि गण वरिष्ठ नेता कार्यकर्ता केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों का विरोध करते हुए किसान आंदोलनों को अपना पूर्ण समर्थन देंगे, 8 दिसंबर को भारत बंद का भी समाजवादी पार्टी पूरा समर्थन कर रही है।
गौरतलब है कि जौनपुर जिले में किसान यूनियनों का कोई खास आधार नहीं है। किसान यूनियन के नाम पर मछलीशहर में राजदेव यादव की अगुवाई में एक छोटा सा संगठन काम कर रहा है। जबकि किसान सभा के नाम से कम्युनिस्ट पार्टियों का संगठन भी वर्तमान में मछलीशहर क्षेत्र तक ही सीमित रह गया है। बसपा और आम आदमी पार्टी आंदोलन के नाम पर पिछले कई वर्षों से सिर्फ खानापूर्ति ही कर रही हैं। इससे यह साफ है कि जौनपुर में किसानों के नाम पर अगर कोई आंदोलन होता है तो वह सिर्फ सपा का आंदोलन होगा। वैसे भी समाजवादी पार्टी के नेता मल्हनी विधानसभा उपचुनाव के बाद वाराणसी खंड शिक्षक एवं स्नातक एमएलसी चुनाव के परिणामों से बेहद उत्साहित हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button