विद्युत आपूर्ति से संबंधित पूर्ण-अपूर्ण कार्यों की प्रगति रिपोर्ट तलब किया डीएम ने

जौनपुर। बिजली से संबंधित शिकायतों,समस्याओं और उस क्षेत्र में हो रहे कामों के प्रगति की समीक्षा की गई है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि विद्युत विभाग के जो भी कार्य चल रहे हैं उसमें से कितने पूर्ण है तथा कितने अपूर्ण है, इसकी रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में गुरुवार को विद्युत विभाग के अधिकारियों, बजाज कंपनी एवं बिल एजेंसी के साथ बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने जर्जर तारों को ठीक कराने का निर्देश दिया। मीटर लगने से बचे हुए गांवों में ग्रामवार मीटर लगाने का प्रोग्राम बनाकर अवगत कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सभी गौशालाओं में विद्युत कनेक्शन एवं मीटर लगाना सुनिश्चित करें। जिन ग्रामों में विद्युत की समस्याएं ज्यादा आ रही है, उसकी सूची बनाकर मुख्य विकास अधिकारी को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। रामपुर में कस्तूरबा गांधी विद्यालय में तार शिफ्टिंग का कार्य कराया जाना है जिसे तत्काल कराने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिए गए। उन्होंने कहा कि सौभाग्य योजना के तहत दिए गए कनेक्शनों का सत्यापन अवर अभियंता से कराया जाए तथा बिलिंग पोर्टल से की जाए। गांव में बिल निकालकर उपभोक्ताओं को उसकी कॉपी उपलब्ध कराई जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि कई जगह शिकायतें आ रही हैं कि गलत तरीके से खम्भे लगा दिए गए हैं एवं अधिक आबादी वाले मजरे का विद्युतीकरण नहीं किया गया है इस समस्या का निस्तारण कराने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिए गए। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन की मीटर चेकिंग की रिपोर्ट बनाई जाए। बैठक में जिलाधिकारी ने सुझाव दिया कि दूर-दराज के उपकेंद्रों पर परिवर्तक की मरम्मत पहले से ही कराकर रखा जाए। उन्होंने कहा कि सतारिया औद्योगिक क्षेत्र के लिए एक वैकल्पिक 33 के.वी. का अलग से फीडर बनाया जाए। डीएम ने शाहगंज एवं मुंगराबादशाहपुर में भी वर्कशॉप बनाए जाने के लिए जमीन चिन्हित करने का निर्देश दिया। बैठक में अधिशासी अभियंता ए.के. मिश्र, वी.के.गुप्ता सहित बजाज एवं बिल एजेंसी के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button