औचक निरीक्षण में गायब मिले सीएमओ ऑफिस के स्टाफ से डीएम ने मांगा स्पष्टीकरण

जौनपुर। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा द्वारा मंगलवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जिला कार्यक्रम समन्वयक आयुष्मान भारत डॉक्टर बद्री विशाल पांडेय, कनिष्ठ सहायक विवेक मौर्य, अपर शोध अधिकारी मणीन्द्र प्रताप सिंह, कनिष्ठ सहायक राजशेखर तिवारी अनुपस्थित मिले। जिलाधिकारी ने अनुपस्थित कर्मचारियों से स्पष्टीकरण तलब किए जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कार्यालय में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए, अलमारियों का रख-रखाव ठीक से किया जाए, पत्रावलियों का रख-रखाव अच्छे से किया जाए।

जिलाधिकारी द्वारा कोल्डचेन रूम, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन सेल, प्रधानमंत्री जन आरोग्य सेल का निरीक्षण किया गया। डीएम ने आयुष्मान योजना के तहत अस्पतालों में इलाज करा रहे मरीजों पर आने वाले औसत खर्च की जानकारी प्राप्त की। जिलाधिकारी ने जनपदीय कोविड-19 वैक्सीन स्टोर का निरीक्षण करते हुए कोविशील्ड वैक्सीन स्टोरेज मशीन की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राकेश कुमार को निर्देश दिया कि आयुष्मान योजना के तहत मरीजों के इलाज में वृद्धि लायी जाए। डॉ. जियाउल हक से कोरोना केस की स्थिति की जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर डॉ. आई.एन. तिवारी, डॉ. राजीव यादव, डॉ. नरेंद्र सिंह, डॉ. सत्यनारायण, हरीशचंद्र, धीरज यादव, हिमाशु शेखर सिंह उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button