अलग पूर्वांचल राज्य बनने से ही उत्तर प्रदेश का विकास संभव

भारतीय मानव समाज पार्टी की जिला इकाई ने भेजा राष्ट्रपति को ज्ञापन

जौनपुर। भारतीय मानव समाज पार्टी की जिला इकाई ने जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को प्रेषित 6 सूत्रीय ज्ञापन के माध्यम से पृथक पूर्वांचल राज्य की मांग की है। कहा गया है कि उत्तर प्रदेश बड़ा प्रदेश होने के कारण इस प्रदेश का विकास नहीं हो पा रहा है। इसलिए पृथक पूर्वांचल राज्य बनाकर ही इस प्रदेश का विकास सम्भव है। भारतीय मानव समाज पार्टी पृथक पूर्वांचल राज्य की मांग करती है।
अन्य मांगों के सन्दर्भ में कहा गया है कि जौनपुर के शाहगंज के अमारी गांव में ग्राम प्रधान डॉक्टर बसन्त लाल बिन्द की हत्या हुई थी। उनके परिवार को न्याय नहीं मिल पाया, उसकी न्यायिक जांच होनी चाहिए और परिवार को आर्थिक मदद के रूप में 25 लाख रूपये का सहयोग मिलना चाहिए।किसानों के मुद्दे पर कहा गया है कि भारत सरकार ने जो नया किसान बिल पास किया वह किसानों को हित में नहीं है। इसलिए किसानों के हित के लिए बिल को वापस लिया जाय। पार्टी ने शिक्षा के मुद्दे पर ज्ञापन में कहा है कि उत्तर प्रदेश में कोरोना के चलते सरकारी स्कूल बन्द चल रहे हैं। गरीब बच्चों की शिक्षा खराब हो रही है। बच्चों के भविष्य के लिए स्कूल को जल्द से जल्द शुरू कराया जाय। साथ ही उन बच्चों को 2000 रू० महीना वजीफा भी दिया जाय। खास बात यह है कि उत्तर प्रदेश की राजनीति में अपनी जगह बनाने की जद्दोजहद में लगी इस पार्टी का सियासी क्षितिज पर उदय जौनपुर से ही हुआ है। पिछले चुनावों में अपने प्रत्याशी खड़े कर चुकी इस पार्टी का पंजीकृत कार्यालय जिले की केराकत तहसील क्षेत्र के ओइना गांव में स्थित है। इस‌ पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष केवट रामधनी बिन्द हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button