उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष को ‘देख लेने’ की धमकी देने वाले पर केस दर्ज

जौनपुर। विपरीत फैसला सुनाने पर मजिस्ट्रेट को धमकी मिली है। एक अधिवक्ता राजेंद्र प्रसाद के परिवाद पर कीर्ति कुंज के प्रोपराइटर नन्हे लाल वर्मा के खिलाफ सेवा में कमी पाते हुए ढाई लाख रुपए हर्जाना लगाने के 2 दिन बाद सेवानिवृत्त जिला जज एवं उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष शमशाद अहमद को फोन पर धमकी दी गई कि कीर्ति कुंज वाले नन्हेलाल वर्मा के खिलाफ कार्रवाई न करें अन्यथा देख लेंगे। पुलिस अधीक्षक के आदेश पर फोन करने वाले कथित आरके सिंह के खिलाफ 6 जनवरी को लाइन बाजार थाने में प्राथमिकी दर्ज हुई। एफआईआर की कॉपी मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की कोर्ट में प्रस्तुत की गई। उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष शमशाद अहमद ने एसपी को दरखास्त दिया कि 4 जनवरी 2021 को 1:01 दिन में मोबाइल से उनके मोबाइल नंबर पर एक व्यक्ति ने फोन किया। फोन करने वाले ने अपना नाम आर के सिंह बताया।

कहा कि मैं व्यापार मंडल का पदाधिकारी बोल रहा हूं। इतने में फोन कट गया।दोबारा उसी नंबर से उसी व्यक्ति ने दो मिनट बाद फोन किया और धमकी भरे लहजे में कहा कि आप कीर्ति कुंज वाले नन्हे लाल वर्मा पर कोई कार्यवाही न करें अन्यथा वह देख लेगा। यह कृत्य सख्त आपत्तिजनक होने के साथ-साथ उपभोक्ता फोरम अधिनियम की धाराओं का उल्लंघन है तथा ऐसा कृत्य करके लोक सेवक को उसके शासकीय कर्तव्यों के निर्वहन में बाधा उत्पन्न की गई। फोरम को न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी की सारी शक्तियां प्राप्त है। मामले की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए गहन जांच आवश्यक है। पुलिस अधीक्षक से निवेदन किया गया कि मामले की जांच करा कर संबंधित व्यक्ति के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करें और आयोग को की गई कार्यवाही से सूचित करें। जिला मजिस्ट्रेट को आवश्यक कार्रवाई के लिए प्रार्थना पत्र की कॉपी भेजी गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button