जौनपुर में सपा के वर्चस्व को तोड़ कर भाजपा ने ब्लाकों पर लहराया अपना परचम

आक्रामक रणनीति से भाजपा को बड़ी सफलता हासिल, 5 ब्लाकों में निर्दलीय क्षेत्र प्रमुख निर्वाचित,सपा की झोली में महज़ 2 ब्लाक

जौनपुर। जिले में आज 16 विकास खंडों में संपन्न हुए क्षेत्र प्रमुखों के चुनाव में भाजपा को बड़ी सफलता हाथ लगी है। भाजपा की सोशल इंजीनियरिंग और आक्रामक रणनीति ने विरोधियों के हौसले पस्त कर दिए। चुनाव में करंजाकला, शाहगंज सोंधी, सुइथाकला, मड़ियाहूं समेत कई ब्लाक छिन जाने से समाजवादी पार्टी को करारा झटका लगा है। शाहगंज सोंधी ब्लाक पर पिछले कई वर्षों से पूर्व मंत्री व विधायक ललई यादव के परिवार का कब्जा रहा है। यह सीट भाजपा प्रत्याशी मंजू सिंह ने छीन कर पहली बार यहां कमल खिलाया है। मंजू सिंह को कुल 86 मत मिला जबकि सपा प्रत्याशी सरिता यादव को 68 मत मिले हैं। एक मत अवैध घोषित हुआ।

राज्यमंत्री गिरीश चंद्र यादव के परिवार की पूनम यादव ने करंजाकला ब्लाक को सपा से छीनकर भाजपा के खाते में दे दी है। पूनम यादव को 84 मत मिले जबकि सपा प्रत्याशी गीता यादव को 25 मत पाकर संतोष करना पड़ा है। दो मत निरस्त हुए हैं।सिकरारा ब्लाक पर भाजपा ने कब्जा कर लिया है। यहां पर भाजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने 70 मत हासिल किया, निर्दल प्रत्याशी अनीता यादव को 16 मत मिला है, वहीं सपा प्रत्याशी के खाते में एक मत आया। सिरकोनी ब्लाक में भी कमल खिल गया है। यहां पर भाजपा के बंशराज सिंह 68 वोट पाकर प्रमुख बने हैं, सपा प्रत्याशी सपना सिंह को मात्र 15 मत मिले हैं। एक मत निरस्त हुआ है।

खुटहन ब्लाक पर भी भाजपा का परचम लहराया है। यहां पर भाजपा प्रत्याशी ब्रजेश यादव को 73 और सपा की सरजू देई को 29 मत मिला है। वहीं सात मत निरस्त हुआ है। सुइथाकला ब्लाक पर भी भाजपा का कब्जा हो गया है। यहां पर भाजपा की विद्या तिवारी को 46 मत मिला, सपा के धर्मेन्द्र वर्मा को 45 वोट मिला है। यहां पर कुल सात वोट निरस्त हुए। मुंगराबादशाहपुर ब्लाक भी भाजपा के खाते में गया है। यहां पर भाजपा प्रत्याशी सत्येन्द्र सिंह को 68 मत और समाजवादी पार्टी की चमेला देवी को 30 मत मिले हैं।सुजानगंज विकास खण्ड पर भगवा फहराया है। यहां पर भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी ऊषा शुक्ला 68 मत हासिल करके जीत गई हैं। जबकि सपा की दीप्ति पटेल को मात्र 37 मत मिला है। मुफ्तीगंज ब्लाक प्रमुख पद पर भाजपा प्रत्याशी ऊषा देवी ने 33 मतों के अंतर से सपा प्रत्याशी को शिकस्त दी है। ऊषा को कुल 64 मत मिला है जबकि सपा की मीला सरोज को मात्र 15 मत मिला। उधर महराजगंज ब्लाक में भाजपा और सपा प्रत्याशी को 41-41 मत मिले था। उसके बाद सिक्का उछाला गया, जिसमें भाजपा की माण्डवी सिंह ने जीत दर्ज की है।

मछलीशहर सीट पर सपा का परचम लहराया है। यहां सपा प्रत्याशी गोपेश यादव को 95 मत मिले हैं, भाजपा प्रत्याशी बीना पटेल को मात्र 11 मत मिला। यहां 7 मत निरस्त हुआ है। इसी तरह धर्मापुर ब्लाक में भी सपा को जीत मिली है। यहां पर सपा प्रत्याशी विमलेश यादव को 26 मत मिला जबकि भाजपा की नीलम पाल के खाते में 17 मत गया। रामपुर ब्लाक पर निर्दल प्रत्याशी नीलम सिंह ने बाजी मारी है। उन्हें कुल 55 मत मिले, अपना दल प्रत्याशी राहुल सिंह के खाते में 44 मत आए। सपा प्रत्याशी सत्यप्रकाश मिश्रा को मात्र एक मत मिला है।  बदलापुर ब्लाक पर निर्दलीय प्रत्याशी अशोक यादव और मड़ियाहूं ब्लाक पर निर्दलीय प्रत्याशी रेखा यादव ने जीत दर्ज की है। जलालपुर ब्लाक पर निर्दल प्रत्याशी बदामा देवी ने भाजपा प्रत्याशी कमलेश कुमारी को 15 मतों से शिकस्त दी है। बदामा को 50 और भाजपा प्रत्याशी को 35 मत मिला है।

गौरतलब है कि 5 ब्लाकों पर निर्विरोध क्षेत्र प्रमुख चुने गए हैं। जिनमें बरसठी ब्लाक पर भाजपा प्रत्याशी अनीता शुक्ला, रामनगर पर तारा देवी (भाजपा), केराकत पर सरोजा देवी (भाजपा) एवं डोभी ब्लाक पर विद्या देवी (भाजपा) को बिना लड़े जीत मिली है। इस तरह भाजपा ने चार ब्लाकों पर पहले ही कब्जा कर लिया था। जबकि एक सीट बक्शा ब्लाक पर भाजपा के घोषित प्रत्याशी पूर्व ब्लाक प्रमुख सजल सिंह समेत किसी ने पर्चा ही दाखिल नहीं किया। जिसके कारण पूर्व सांसद धनंजय सिंह के करीबी निर्दल प्रत्याशी मनोज यादव क्षेत्र प्रमुख निर्वाचित हुए हैं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button