घर वालों की डांट से क्षुब्ध होकर दोनों लड़कियों ने फरक्का एक्सप्रेस से कटकर की थी आत्महत्या

रेलवे ट्रैक पर मृ‌त पाई गई लड़कियों की हुई शिनाख्त, रिश्ते में थी बहनें

जौनपुर। जौनपुर सिटी-सुल्तानपुर रेल खंड पर बक्शा थाना क्षेत्र के उचौरा गांव के पास रविवार की दोपहर को रेलवे ट्रैक पर मृ‌त पाई गई लड़कियों के बीच बहन का रिश्ता था। उन्होंने परिवार के लोगों की डांट से क्षुब्ध होकर फरक्का एक्सप्रेस ट्रेन से कटकर मौत को गले लगाया था। सोमवार को परिवार के लोगों ने लड़कियों की शिनाख्त , मृत लड़कियों में से 16 वर्षीया ज्योति बक्शा थाना क्षेत्र के दरियावगंज निवासी शंभूनाथ निषाद की पुत्री थी। दूसरी 18 वर्षीया कविता मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र के उगापुर गांव के नक्षत्रबली निषाद की पुत्री थी। ज्योति करीब डेढ़ माह से उगापुर में अपने मामा नक्षत्रबली के यहां रह रही थी।

परिजनों के अनुसार रविवार की सुबह किसी बात पर डांट-फटकार लगाए जाने के बाद दोनों करीब दस बजे एटीएम से रुपये निकालने के नाम पर बाजार जाने की बात कहकर साथ में घर से निकली थी। देरशाम तक वापस न लौटने पर परिवार के लोगों ने दोनों की खोज शुरू की तो पता चला कि दोनों नाव से सई नदी पार कर बाजार की तरफ जाती देखी गई थी। उचौरा में ट्रेन के आगे लेटकर दो युवतियों के आत्महत्या कर लेने की खबर सोमवार को अखबारों में पढ़ने के बाद कविता एवं ज्योति के परिजन थाने आए। पुलिस उन्हें जिला अस्पताल की मोर्चरी ले गई। वहां शव देखते ही दोनों के परिजन रोने लगे। ज्योति शंभूनाथ निषाद की चार पुत्रियों तथा दो भाइयों में दूसरे नंबर पर थी।ज्योति के पिता शंभूनाथ रोजी-रोटी कमाने के लिए मुंबई रहते हैैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button