हाईवे पर हुई लाखों की छिनैती में शामिल दो समेत 4 सशस्त्र लुटेरे पुलिस गिरफ्त में

पुल के नीचे डकैती की योजना बनाते समय पड़ा छापा, तीन भागने में सफल

जौनपुर। सिंगरामऊ पुलिस व एसओजी की संयुक्त टीम ने 10/11दिसम्बर की रात 4 लुटेरों को सिरकिना गांव स्थित पीली नदी के पास से गिरफ्तार किया है। उनके पास से तमंचे, मोबाइल फोन, दो चोरी की मोटरसाइकिल, 6300 रुपये नकद बरामद हुए। पुलिस का दावा है कि बदमाश वांछित फरार पुरस्कार घोषित अभियुक्त डब्बू पाल उर्फ प्रदीप पाल (निवासी महुली, थाना आसपुर देवसरा, जनपद प्रतापगढ़ व उसके सहयोगियों के साथ ग्राम चोरसण्ड थाना गौराबादशाहपुर जनपद जौनपुर में डकैती डालने की योजना बना रहे थे। पूछताछ के बाद उन्हें संबंधित धाराओं में जेल भेज दिया गया।‌

प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार मिश्र ने बताया कि रात में हमराहियों के साथ गश्त के दौरान एसओजी प्रभारी पर्व कुमार सिंह भी पहुंच गए। दोनों लोग मुखबिर की सूचना पर सिरकिना गांव में पीली नदी के पास पहुंच गए। वहां पुल के नीचे सात लोग मौजूद थे। पुलिस ने घेराबंदी कर चार को पकड़ लिया, जबकि तीन फरार हो गए। गिरफ्तार बदमाशों में डब्बू पाल उर्फ प्रदीप पाल प्रतापगढ़ जिले के आसपुर देवसरा थाना क्षेत्र के महुली गांव का निवासी है। वह इनामी बदमाश है। उसके खिलाफ बदलापुर, मुंगराबादशाहपुर, सिंगरामऊ, आसपुर देवसरा और थरवई (प्रयागराज) थाने में लूट समेत कई अन्य अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।

उसके साथ से अन्य गिरफ्तार बदमाशों में सत्यम गौतम (निवासी लेदुका, थाना बादलापुर), सचिन चौहान (निवासी मरगूपुर, थाना आसपुर देवसरा, प्रतापगढ़) और अजीजुर्रहमान (निवासी चोरसंड थाना गौराबादशाहपुर) शामिल है। बदमाशों के पास से तमंचा, मोबाइल फोन, छह हजार तीन सौ रुपये नकद बरामद हुआ है। पुलिस के मुताबिक सचिन चौहान व सत्यम गौतम पिछले दिनों हुए सदिका व साढ़ापुर गांव के पास हाईवे पर 17‌दिसम्बर 2020 को हुई लाखों की छिनैती में शामिल थे। अभियुक्त गण काफी शातिर किस्म के दुर्दान्त अपराधी हैं, जिनका एक गिरोह है। ये विभिन्न शहरों में किराये पर मकान लेकर लूट/ डकैती/ छिनैती की योजना बनाकर अपराध कारित करते रहते हैैं।‌ इनका लम्बा अपराधिक इतिहास है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button